भाजपा की 83 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी

पूर्व मुख्यमंत्री राजे सहित कई दिग्गजों को बनाया उम्मीदवार…

सूरसागर विधायक सूर्यकांता व्यास सहित आठ वर्तमान विधायकों के टिकट काटेसूरसागर विधायक सूर्यकांता व्यास सहित आठ वर्तमान विधायकों के टिकट काटे

जयपुर.राजस्थान में 24 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने शनिवार को उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी कर दो। लिस्ट में 83 उम्मीदवारों के नामों का फैसला कल नई दिल्ली पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में फाइनल कर लिया गया था। इस लंबी लिस्ट में दस महिलाओं को उम्मीदवार बनाया गया है। लिस्ट में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र सिंह राठौड़ सहित तमाम दिग्गजों हालांकि राजेंद्रसिंह राठौड़ की सीट बदल दी है। उन्हें चूरू की जगह तारा नगर सीट से चुनावी मैदान में उतारा गया है। वहीं जोधपुर जिले में सूरसागर विधायक सूर्यकांता व्यास सहित आठ वर्तमान विधायकों के टिकट काटे गए है। सूरसागर मे सूर्यकांता की उनकी जगह भाजपा के बुजुर्ग और पूर्व जिलाध्यक्ष देवेन्द्र जोशी को मैदान में उतारा गया है। वहीं भाजपा ने पहली लिस्ट में उतारे उम्मीदवारों के विरोध को देखते हुए इस बार भाजपा ने संतुलन बनाने की कोशिश की गई है। खासकर वसुंधरा राजे खेमे के विधायकों व नेताओं पर भरोसा जतया गया है।

और कई विधायकों के नामों वसुंधरा राजे का एलान किया गया है। झालरापाटन.

भाजपा राष्ट्रीय मुख्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजदूगी में केंद्रीय चुनाव समिति की कल हुई बैठक 83 उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लग गई थी। शनिवार दोपहर जारी लिस्ट में छह वर्तमान वर्तमान विधायकों की टिकट काटे गए है। नागीर से मोहनराम चौधरी, मकराना से रूपाराम मुरावतिया, सूरजगढ़ से सुभाष पूनिया चितौडगढ़ से चंद्रभान सिंह और सांगानेर 7 से अशोक लाहोटी को पार्टी ने चुनावी मैदान में नहीं उतारा है। भैरोसिंह शेखावत के दामाद नरपत सिंह राजवी को चित्तौडगढ़ से टिकट दिया गया, जबकि पहले इनकी विधानसभा से टिकट काट कर दिया आदर्श नगर से दीया कुमारी को मौका दिया गया था। इसी तरह जोधपुर जिले में सिर्फ सूरसागर सीट पर अम्मीदवार का नाम एलान किया गया था वहां वर्तमान विधायक सूर्यकांता व्यास का टिकट देने के बजाय इस बार पूर्व जिलाध्यक्ष देवेन्द्र जोशी पर दांव खेला गया है। वहीं सांगानेर सीट से प्रदेश महामंत्री भजनलाल शर्मा को टिकट दिया गया। भाजपा की दूसरी लिस्ट में पार्टी के कई दिग्गजों के नाम हैं। झालरापाटन से वसुंधरा राजे को आमेर से सतीश पूनिया, नागौर से ज्योति मिर्धा टिकट दिया गया है। बीकानेर पूर्व से सिद्धी कुमारी, सूरजगढ़ से संतोष अहलावत, जायल सीट से मंजू बाघमार राजसमंद से दीप्ति महेश्वरी का नाम मकराना से सुमिता भींचर, अजमेर दक्षिण से अनिता भदेल, अजमेर उत्तर से वासुदेव देवनानी का नाम शामिल है। जोधपुर संभाग में पाली से वर्तमान विधायक ज्ञानचंद पारख, जैतारण अविनाश गहलोत,,सुमेरपुर जोराराम कुमावत सोजत से शोभा चौहान,बाली पुष्पेंन्द्रसिंह राणावत को मैदान में उतारा गया है। जालोर में जोगेश्वर गर्ग, आहोर छगनसिंह राजपुरोहित पिडवाड़ा आबू से समाराम गरासिया रेवदर में जगसीराम कोली व सिवाना में हमीरसिंह पर वापस भरोसा जताया गया है। वही पिछला चुनाव हार चुके महत प्रतापपुरी को पोकरण, चौहटन में आदूराम मेघवाल और सिरोही में ओटाराम देवासी पर एक बार फिर से दांव खेला गया है। नाथद्वारा से कुंवर विश्वराज सिंह मेवाड़ को टिकट दिया गया है। मेवाड़ के पूर्व शाही घराने से ताल्लुक रखने वाली विश्वराज कुछ दिन पहले भाजपा में शामिल हुए। इस तरह भाजपा ने जयपुर, उदयपुर, झालावाड़, शाहपुरा और बीकानेर के पूर्व राजपरिवारों को मैदान में उतार दिया है। वसुंधरा राजे समर्थक दर्जन भर नेताओं को मिले टिकट वसुंधरा राजे के नजदीकी माने जाने वाले करीब एक दर्जन नेताओं को टिकट मिला है जिनमें प्रताप सिंह सिंघवी, अशोक डोगरा, नरपत सिंह राजवी, श्रीचंद कृपलानी, कालीचरण सराफ, कैलाश वर्मा, सिद्धि कुमारी, हेम सिंह भड़ना, अनिता भदेल, कन्हैया लाल का नाम शामिल हैं। इसके अलावा वसुंधरा की एक और खास सिद्धि कुमारी को टिकट मिला हैं जो बीकानेर के पूर्व शाही परिवार से ताल्लुक रखती हैं।

इन विधायकों के कटे टिकट

…………………………………………………………………………………………………………………………………………………..

जोधपुर में सूरसागर विधायक सूर्यकांता व्यास का नामकट गया है। इसके साथ ही अशोक लाहोटी सांगानेर, सुभाष पूनिया सूरजगढ़, हरेन्द्र नीनामा घाटोल, ललित ओस्तवाल बड़ी सादडी, चन्द्रभान आक्या चित्तौड़गढ़, मोहनराम चौधरी नागौर और रुपाराम मुरावतिया मकराना को भी टिकट नहीं मिला है।

जीजी का टिकट कटते ही उठने लगे विरोध के स्वर

…………………………………………………………………………………………………………………………………………………..

भाजपा ने जोशी को चुनावी मैदान में उतारा, कई भाजपा नेताओं ने जताया
विरोध, पदों से इस्तीफे दिए

जोधपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आज अपने उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर दी है। भाजपा ने दूसरी सूची कुल 83 विधानसभा सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा की है। जोधपुर की सूरसागर विधानसभा सीट से लगातार तीन बार से विधायक रही सूर्यकांता व्यास का टिकट वयोवृद्ध होने के कारण काट दिया गया है। हालांकि भाजपा ने इस सीट पर फिर से ब्राह्मण कार्ड खेलते हुए भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष देवेंद्र जोशी को चुनावी मैदान में उतारा है लेकिन सूर्यकांता व्यास के समर्थकों ने उनका टिकट कटने पर विरोध जताना शुरू कर दिया है। उन्होंने अपने इस्तीफे देने शुरू कर दिए है। टिकट वितरण को लेकर प्रतापनगर मंडल के अध्यक्ष व चौपासनी मंडल के उपाध्यक्ष के इस्तीफे की खबर है। सूरसागर विधानसभा क्षेत्र में ब्राह्मण, मुस्लिम, एससी- एसटी, सिंधी, माली जातियों के वोट सर्वाधिक है। सूरसागर विधानसभा सीट पर मुस्लिम और ओबीसी मतदाता निर्णायक भूमिका निभाते हैं। परिसीमन के बाद भी यहां पर कांग्रेस अपनी जमीन मजबूत नहीं कर पाई इस सीट पर सूर्यकांता व्यास जीजी पिछले चुनाव जीत चुकी है।

जीजी ने लगाई थी जीत की हैट्रिक….

साल 2008 में परिसीमन के बाद विधानसभा चुनाव बीजेपी की सूर्यकांता व्यास ने कांग्रेस के सईद अंसारी को शिकस्त दी। साल 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी विधायक सूर्यकांता व्यास ने लगातार दूसरी बार जीत दर्ज करते हुए कांग्रेस के जैफू खान को हराया। वर्ष 2018 में एक बार फिर सूर्यकांता व्यास की जीत हुई। उन्होंने प्रो. अयूब खान को हराया। भाजपा ने इस बार पुराने चेहरे की जगह नए चेहरे पर दांव खेला है। वहीं कांग्रेस सूरसागर सीट को अपने खाते में शामिल करने के लिए मुस्लिम को टिकट दे या किसी ब्राह्मण को इस मुद्दे पर अभी तक मंथन ही कर रही है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सूरसागर सीट पर जिताऊ प्रत्याशी की तलाश कर रहे हैं। अब देखना होगा कि यह तलाश इस विधानसभा चुनाव में खत्म होती है या नहीं।