जी 20 समिट • पुलिस ने की फुल ड्रेस कारकेड रिहर्सल, अंतिम समय तक परखेंगे तैयारी

रियल टाइम अपडेट रहेंगे जवान, तीन चरण में बताया आतंकी व रासायनिक हमले से कैसे निपटें

ABP News 21

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जी 20 शिखर सम्मेलन के मद्देनजर शनिवार को फुल ड्रेस कारकेड रिहर्सल की। इस दौरान दिल्ली के कई इलाकों से आए कार के काफिलों को सुरक्षा प्रदान करते हुए तय स्थानों तक पहुंचाया गया। इस रिहर्सल को तीन चरणों में आयोजित किया गया। पहले चरण में सुबह साढ़े आठ बजे से दोपहर 12 बजे तक, दूसरा चरण शाम साढ़े चार बजे से छह बजे तक और तीसरा और अंतिम चरण शाम सात बजे से रात 11 बजे तक पूरा होगा। अभ्यास के दौरान यातायात प्रभावित होने की आशंका है, इसलिए लोगों को मेट्रो का इस्तेमाल करने की सलाह पुलिस ने पहले ही दे दी गई थी। बता दें 3 सितंबर रविवार को भी फुल ड्रेस रिहर्सल होगी।

स्पेशल सीपी ट्रैफिक एसएस यादव ने कहा हमने सभी मीडिया प्लेटफार्मों के साथ यात्रा दिशा-निर्देश साझा किए हैं। समाचार पत्रों के जरिए भी जानकारी दी है। सोशल मीडिया के माध्यम से भी रियल टाइम जानकारी दी जा रही है। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि परिवहन को ज्यादा प्रभावित न करने का प्रयास कर रहा है। लेकिन हम इस दौरान ट्रैफिक को भी रोक रहे हैं। कुछ घंटों के लिए महत्वपूर्ण और विशेष गतिविधियों को लेकर लोगों से अपील करूंगा कि यातायात पुलिस या दिल्ली पुलिस की वेबसाइट पर दिशा-निर्देशों देख कर ही घरों से निकले।

दो दिनों तक फुल ड्रेस रिहर्सल, इन रास्तों पर जाने से बचें

अभ्यास के दौरान आज सरदार पटेल मार्ग-पंचशील मार्ग, मानसिंह रोड गोल चक्कर, सी-हेक्सागन, मथुरा रोड, जाकिर हुसैन मार्ग-सुब्रमण्यम भारती मार्ग, भैरों मार्ग- रिंग रोड, सत्य मार्ग / शांतिपथ गोल चक्कर, जनपथ कर्तव्य पथ, बाराखंभा रोड रेड लाइट, टॉल्स्टॉय मार्ग और विवेकानंद मार्ग आदि पर यातायात प्रभावित रहेगा। इन रूट से जाने के लिए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने लोगों को बचने की सलाह दी है। बता दें कि जी 20 शिखर सम्मेलन के दौरान

आवाजाही में कोई चूक न हो इसके लिए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस और दिल्ली पुलिस संयुक्त रूप से दो दिनों तक फुल ड्रेस रिहर्सल कर रही है. शनिवार उनका पहला दिन है और रविवार उनका दूसरा दिन होगा. इसमें दिल्ली पुलिस, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस और अन्य एजेंसियां ​​फिलहाल इस अभ्यास में भाग ले रही हैं.

एनएसजी ने चलाया तलाशी अभियान

राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड एनएसजी के बम स्क्वाड ने दिल्ली के विभिन्न स्थानों पर तलाशी अभियान चलाया। एनएसजी ने वीवीआईपी और वीआईपी रूटोंपर कई जगहों पर तलाशी अभियान चलाया। इन जगहों से इन कमांडों ने वहां कीजानकारी भी हासिल की। उनके साथ स्पेशल डॉग स्क्वाड भी मौजूद रहा, जोगोला-बारूद को पकड़ने में एक्सपर्ट रहते हैं।

पहरे में दिल्ली, वायु सेना के साथ की मॉक ड्रिल

वहीं रिहर्सल के दौरान कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच सुरक्षा में तैनात होनेवाले जवानों को रासायनिक और जैविक हथियारों के खतरों से जुड़ी ट्रेनिंग दी जा रही है। हाल ही में वायु सेना के साथ भी बचाव अभियान की मॉक ड्रिल की गई।