चांद पर हमारा नया पता शिवशक्ति पॉइंट तिरंगे के पास, दक्षिणी ध्रुव, चंद्रमा

Abp न्यूज़ 21. चंद्रयान-3 का लैंडर विक्रम वह स्थान जहाँ चंद्रमा उतरा था अबशिव शक्ति के नाम से जाना जाएगा। वहीं, चंद्रयान-2 के लैंडर ने चंद्रमा पर जहां अपने पदचिह्न छोड़े थे, उसे तिरंगा कहा जाएगा। चंद्रमा पर चंद्रयान-3 की सॉफ्ट लैंडिंग के दिन 23 अगस्त को अब हर साल राष्ट्रीय अंतरिक्ष दिवसके रूप में मनाया जाएगा।


ये घोषणाएं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को इसरो टेलीमेट्री ट्रैकिंगएंड कमांड नेटवर्क (इस्ट्रैक) से की। ग्रीस से लौटने के बाद पीएम मोदी चंद्रयान- 3 टीम से मिलने पहुंचे थे। इस दौरान उन्हें मिशन के परिणामों और प्रगति के बारे में भी जानकारी दी गई। प्रधानमंत्री ने चंद्रयान-2 के आर्बिटर से ली गई लँडर विक्रम की तस्वीरें भी जारी की!


भावुक पल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इसरो मुख्यालय पहुंचने पर इसरो अध्यक्ष एस. सोमनाथ भावुक होकर उनके गले लग गए।


  • भारत की वैज्ञानिक शक्ति की शुरुआत

प्रधानमंत्री ने कहा कि चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग की उपलब्धि अनंत अंतरिक्ष में भारत की वैज्ञानिक शक्ति की शुरुआत है। लैंडिंग का क्षण राष्ट्र की चेतना में अमर हो गया है। यह इस सदी के सबसे प्रेरणादायक क्षणों में से एक है। मून लैंडर ने अंगद की तरह चंद्रमा पर मजबूती से पैर जमा लिया है। दुनिया भारत की वैज्ञानिक भावना, तकनीक व वैज्ञानिकों का लोहा मान रही है।


  • पहले से है जवाहर पॉइंट

भारत का पहला चंद्रयान मिशन आंध्र प्रदेश के श्री हरिकोटा से 22 अक्टूबर 2008 में लॉन्च किया था। इसमें 11 वैज्ञानिक उपकरण थे। 14 नवंबर 2008 को चंद्रयान-1 के मून इम्पैक्टर प्रोब की चांद के दक्षिणी ध्रुव के पास क्रैश लैंडिंग हुई थी। जहां वह गिरा, उस स्थान को जवाहर स्थल या जवाहर पॉइंट नाम दिया।

देश की युवा पीढ़ी को एक नया दृष्टिकोण दिया

पीएम ने कहा कि मंगलयान और चंद्रयान की सफलताओं और गगनयान की तैयारी ने देश की युवा पीढ़ी को एक नया दृष्टिकोण दिया है। हर बच्चा वैज्ञानिकों में अपना भविष्य देख रहा है। प्रधानमंत्री ने इसरो से स्पेस टेक्नोलॉजी पर राष्ट्रीय हैकथॉन आयोजित करने को कहा। युवा पीढ़ी को भी एक टास्क भी दिया और कहा कि प्राचीन ग्रंथों में सूत्रों को वैज्ञानिक रूप से साबित करने के लिए आगे आएं। उन्होंने उम्मीद जताई कि भारत का अंतरिक्ष उद्योग अगले कुछ वर्षों में 8 अरब डॉलर से 16 अरब डॉलर हो जाएगा।

जय हिन्द 🇮🇳


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *