आज से पेट्रोल पंप बंद

राजस्थानः डीलर्स अनिश्चितकालीन हड़ताल पर, लेकिन कंपनी संचालित प्रदेश में 60 पंप खुलेंगे

प्रदेशभर के पेट्रोल पंप शुक्रवार से पूर्णतः बंद रहेंगे। राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन ने दो दिवसीय सांकेतिक हड़ताल के बाद गुरुवार को अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा कर दी। दो दिन पंपों पर शाम 6 बजे के बाद ही सप्लाई शुरू हो रही थी लेकिन अब यह व्यवस्था भी बंद हो जाएगी। प्रदेश के सभी पंपों पर पेट्रोल, डीजल व सीएनजी- एलपीजी की सप्लाई नहीं होगी। बुधवार व गुरुवार को पंप मालिकों ने 8-8 घंटे बंद रख वैट कम करने की मांग रखी थी लेकिन सरकार ने कोई निर्णय नहीं लिया। सरकार के किसी भी प्रतिनिधी ने डीलर्स से संपर्क नहीं किया। यही नहीं गृह विभाग ने आदेश जारी करते हुए सभी जिला कलेक्टर और पुलिस प्रशासन को कानून व्यवस्था बनाने के निर्देश जारी कर दिए। हालांकि, कंपनियों द्वारा संचालित प्रदेशभर के 60 और जयपुर के 8 कोको पंपों पर पेट्रोल व डीजल की बिक्री यथावत रहेगी।

 राजस्थान के पेट्रोल डीलर पड़ोसी राज्य पंजाब के समान वैट लागू करने की मांग कर रहे हैं, क्योंकि पंजाब और राजस्थान के बीच पेट्रोल की कीमतों में 11.52 रुपये प्रति लीटर का अंतर है. रुपए का अंतर है। इसी तरह डीजल में करीब 6.43 रुपए का अंतर है। इससे लगातार प्रदेश में बिक्री घट रही है। डीलर्स एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. राजेंद्रसिंह भाटी ने बैठक बुलाकर अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा कर दी।

बिक्री घटी, प्रदेश के 270 पेट्रोल पंप बंद हुए 

राजस्थान में वैट अधिक होने के कारण ट्रक और बस संचालक अपने वाहनों में पड़ोसी राज्यों पंजाब, यूपी, हरियाणा, गुजरात और दिल्ली से ईंधन भरवाते हैं। इससे राज्य के 25 जिले सीधी तौर पर प्रभावित हैं। गंगानगर और हनुमानगढ़ जैसे इलाकों में स्थिति ज्यादा खराब है। पंजाब से सटे होने के कारण हनुमानगढ़, गंगानगर में पेट्रोल-डीजल की तस्करी भी हो रही है। इसी वजह इंडियन ऑयल सेंट्रल जेल के सामने से पिछले चार सालों में 270 पेट्रोल पंप बंद हो चुके और कई

• भारत पेट्रोलियम सहकार मार्ग 22 गोदाम सर्किल अन्य भी बंद होने की कगार पर हैं।

जयपुर में ये पंप खुले रहेंगे

 

  • हिंदुस्तान पेट्रोलियम, विद्याधर नगर
  • हिंदुस्तान पेट्रोलियम, दौलतपुरा चंदवाजी रोड
  • हिंदुस्तान पेट्रोलियम, अजमेर पुलिया के पास जैकब रोड के कोने पर
  • इंडियन ऑयल, मानसरोवर तिब्बती मार्केट के पास
  • भारत पेट्रोलियम, जगतपुरा और सीतापुरा

सरकार को हर दिन करीब 44 करोड़ रुपये के राजस्व का नुकसान होता है

एसोसिएशन के भाटी ने बताया कि राज्य के करीब 6712 पेट्रोल पंप शुक्रवार से पूरी तरह बंद रहेंगे. इससे प्रदेश में प्रतिदिन लगभग 15231 किलो लीटर पानी का उत्पादन होता है। डीजल और 68859 किलो लीटर पेट्रोल की कुल विक्री प्रभावित होगी। इससे सरकार को हर दिन करीब 44 करोड़ रुपए के राजस्व का नुकसान होगा।