मां से मारपीट करने पर पुत्रों ने की कांस्टेबल पिता की हत्या

आए दिन गृह क्लेश और मां से मारपीट करने पर दो भाइयों ने शनिवार रात को कांस्टेबल पिता की लोहे की रॉड से सिर पर वार कर हत्या कर दी। हत्या को लूट दिखाने के लिए शव को घर से करीब 300 मीटर दूर सुनसान जगह पटक आए।रविवार सुबह शव के पास कुत्तों को देखकर स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंचे एसीपी आदित्य पूनियां ने बताया कि शव की शिनाख्त मूलत: भरतपुर के हलैना हाल सायपुरा स्थित मानविहार निवासी अमर सिंह (50) के रूप में हुई। एफएसएल टीम से मौका मुआयना करवाया और एसएमएस अस्पताल में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन के सुपुर्द कर दिया। इससे पहले घटना स्थल पर परिजन के साथ स्थानीय लोग पुलिस के विरोध में नारेबाजी कर हत्यारों को पकड़ने की मांग करने लगे। अमर सिंह आरएससी चतुर्थ बटालियन में कांस्टेबल था और यहां पत्नी, बेटी और दो बेटों के साथ रह रहा था।

शव को सुनसान जगह फेंका, दो गिरफ्तार

यूं हुआ खुलासा

डीसीपी राशि डूडी डोगरा ने बताया कि एडिशनल डीसीपी बृजेन्द्र सिंह भाटी व एसीपी आदित्य पूनियां के नेतृत्व में 20 पुलिसकर्मियों की टीम बनाई गई। मृतक की पत्नी व बेटों से अलग-अलग पूछताछ की गई। मृतक के बेटों ने बार-बार बयान बदले, तब उन पर शक गहरा गया। सख्ती से पूछताछ करने पर उन्होंने पिता की हत्या करना कुबूल कर लिया। इस पर दोनों बेटे अंकित सिंह व अमर सिंह को गिरफ्तार कर लिया। मृतक के भाई विजय सिंह ने हत्या के संबंध में रिपोर्ट दर्ज करवाई।

प्रताड़ना से हो गए थे परेशान

पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि आए दिन शराब पीकर पिता मां से भी मारपीट करता था। शनिवार रात को भी मां से गाली गलौज करने लगा। शांत करवाने के लिए बीच बचाव किया, लेकिन पिता उग्र हो गया, तभी लोहे की रॉड से पिता पर हमला कर दिया, जिससे वह अचेत होकर गिर गया। पिता के सिर में गंभीर चोट लगने पर मौत हो गई।