प्रदेश चुनाव समिति की बैठक: आज दिल्ली में मंथनकांग्रेस ने तीन-तीन नामों के पैनल किए तैयार

प्रदेश चुनाव समिति की बैठक: आज दिल्ली में मंथनकांग्रेस ने तीन-तीन नामों के पैनल किए तैयार

कांग्रेस में अपनी बात रखने का हक

कांग्रेस के मौजूदा विधायकों के विरोध को लेकर डोटासरा ने कहा कि कांग्रेस में लोकतंत्र है और सभी को अपनी बात रखने का अधिकार है। भाजपा सांसदों के चुनाव लड़ने को लेकर कहा कि उनके पास प्रत्याशी नहीं बचे हैं। इसलिए सांसदों को उतारा जा रहा है, लेकिन वो भी यहां कामयाब नहीं होंगे। बैठक में कांग्रेस वर्किंग कमेटी के सदस्य सचिन पायलट, महेंद्रजीत सिंह मालवीय, कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर, केबिनेट मंत्री रमेश मीणा, शकुंतला रावत, सालेह मोहम्मद, रामलाल जाट, सुखराम बिश्नोई, गोविंदराम मेघवाल, लालचंद कटारिया, प्रताप सिंह, ममता भूपेश, विधायक रघु शर्मा और राज्य मंत्री राजेंद्र सिंह यादव मौजूद रहे।

कांग्रेस में दावेदारों के पैनल तैयार करने के लिए ब्लॉक, जिला और प्रदेश स्तर पर मांगे गए आवेदनों पर चर्चा के लिए शुक्रवार शाम को कांग्रेस वॉर रूम में प्रदेश चुनाव समिति की बैठक हुई। प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा की अध्यक्षता में हुई बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तमाम पदाधिकारी मौजूद रहे। करीब एक घंटे चली बैठक में इस बार नया प्रयोग करते हुए प्रत्याशी चयन का अधिकार पार्टी हाईकमान पर छोड़े जाने को लेकर सिंगल लाइन का कोई प्रस्ताव पारित नहीं हुआ।

प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा बैठक के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि ब्लॉक, जिला और प्रदेश स्तर पर दावेदारों के 3000 आवेदन आए थे। इसके अलावा प्रदेश इलेक्शन कमेटी के भी सदस्यों को दो-दो जिले दिए गए थे। इन सभी आवेदनों और सुझावों पर बैठक में चर्चा हुई है। अब शनिवार को कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक दोपहर 2:30 बजे गौरव गोगोई की अध्यक्षता में दिल्ली में होगी। इसमें गहलोत और प्रदेश प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा भी मौजूद रहेंगे और तीन-तीन नाम के पैनल तैयार किए जाएंगे। उसके बाद सीईसी की बैठक होगी, जिसमें नामों पर मुहर लगेगी।