Train coach caught fire due to cylinder blast, 10 dead

सिलेंडर में ब्लास्ट से ट्रेन के कोच में लगी आग, 10 मरे

  • लापरवाही: कॉफी बनाते समय हुआ हादसा

  • सिलेंडर में ब्लास्ट से ट्रेन के कोच में लगी आग, 10 मरे


Abp news 21मदुरै. तमिलनाडु के मदुरै रेलवे स्टेशन पर शनिवार तड़के 5.15 बजे ट्रेन के प्राइवेट कोच (किसी व्यक्ति की ओर से बुक कराया गया डिब्बा) में आग लगने से 10 तीर्थयात्रियों की मौत हो गई, जबकि 50 लोग झुलस गए। हादसे के वक्त कोच यार्ड में खड़ा था। कोच में उत्तर प्रदेश के 63 तीर्थयात्री सफर कर रहे थे। कोच 17 अगस्त को लखनऊ जंक्शन से रवाना हुआ था। कोच को रविवार को चेन्नई से लखनऊ लौटना था। बताया जाता है कि यात्रियों ने शनिवार को सुबह कॉफी बनाने के लिए स्टोव जलाया, तो सिलेंडर में ब्लास्ट हो गया। झुलसे लोगों को गवर्नमेंट राजाजी कॉलेज मदुरै में भर्ती करवाया गया है। बताया जाता है कि यात्री रसोई गैस सिलेंडर लेकर यात्रा कर रहे थे। हादसे में मारे गए गए लोगों के परिजनों को 15- 15 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की गई है।

  • 2 घंटे में आग पर काबू पाया जा सका

रेलवे के मुताबिक, हादसा मदुरै यार्ड पर खड़े कोच में सुबह 5.15 मिनट पर हुआ। इसके बाद फायर टीम ने मौके पर पहुंच 7.15 मिनट पर आग पर काबू पा लिया। यह निजी कोच शुक्रवार को नागरकोल जंक्शन पर पुनालुर-मदुरै एक्सप्रेस (16730) में जोड़ा गया। ट्रेन सुबह 3.47 बजे मदुरै रेलवे स्टेशन पहुंची. इस कोच को वहां की ट्रेन से अलग कर दें


  • क्या कहते हैं नियम

रेलवे के मुताबिक यात्री ट्रेन के डिब्बों में केरोसिन, सूखी घास,स्टोव, पेट्रोल, मिट्टी का तेल, गैस सिलेंडर, माचिस, पटाखे या आग फैलाने वाली वस्तु साथ लेकर यात्रा नहीं कर सकते। अगर कोई ट्रेन में स्मोकिंग करता पकड़ा जाएगा तो उसे 3 साल तक की जेल और जुर्माना भी हो सकता है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *